चम्बल नदी (Chambal River)

चम्बल नदी मध्य प्रदेश के जानापाव पर्वत, जोकि महू शहर के पास स्थित है, से निकलती है एवं Chambal River यमुना नदी की सहायक नदी है। पुराने समय में इस नदी को चमरावती कहा जाता था तो कई जगह पर इसे कामधेनु के नाम से भी जाना जाता है। यह नदी पुरे साल बहती है इसलिए इसके अलावा इसके अन्य नाम भी है जैसे बारहमासी नदी, नित्यवाहिनी, सदावाहिनी। यह नदी उत्तर प्रदेश के इटावा शहर के समीप यमुना नदी में मिल जाती है।

एक लाइन में चम्बल नदी पर प्रश्न उत्तर।

चम्बल नदी का उद्गम स्थल क्या है?

यह नदी “जानापाव पर्वत”, महू से निकलती है। महू शहर इंदौर शहर के निकट है परन्तु यह नदी इंदौर से होकर नहीं जाती।

चम्बल नदी के ऊपर बनी परियोजनाएं

चम्बल नदी पर बनी परियोजना जैसे – गांधी सागर, राणा सागर, जवाहर सागर, कोटा वेराज कोटा हैं।

चम्बल नदी की सहायक नदियों के क्या नाम है?

चमरावती की 5 से भी ज्यादा सहायक नदी है जैसे बनास, क्षिप्रा, मेज, बामनी, सीप काली सिंध, पार्वती, छोटी कालीसिंध, कुनो, ब्राह्मणी, परवन नदी इत्यादि चम्बल की सहायक नदियाँ हैं।

चम्बल नदी (Chambal river) की लम्बाई कितनी है?

चम्बल नदी की कुल लम्बाई 1024 किलोमीटर है।
Note – कई जगह चम्बल नदी की लम्बाई 965 किलोमीटर बताई गई है तो कई जगह 1365 किलोमीटर भी। तो चम्बल नदी की कुल लम्बाई कितनी है इसके बारे में कमेंट में बताएं।

राजस्थान में चम्बल नदी की लम्बाई कितनी है?

राजस्थान में चम्बल नदी की लम्बाई 252 किलोमीटर है।

चम्बल नदी के किनारे बसे शहर के नाम क्या है?

मध्य प्रदेश में रतलाम, श्योपुर, मुरैना, भिंड आदि एवं राजस्थान में कोटा, धौलपुर, बूंदी, आदि शहर प्रमुख है।

चम्बल नदी खाना तक जाती है?

यह नदी उत्तर प्रदेश के इटावा शहर के समीप यमुना नदी में मिल जाती है।

यह भी पढ़ें।

  1. बेतवा नदी (Betwa River)

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *