भारत का प्रथम समाचार पत्र (अख़बार) [The first Newspaper in India]

भारत में प्रथम समाचार पत्र का नाम बंगाल गजट (The Bengal Gazette) था जोकि अन्य नाम जैसे ‘कलकत्ता जनरल एडवरटाइजर’, हिचकी का गजट (Hicky’s Gazette) के नाम से भी जाना जाता था। भारत में प्रथम अख़बार (The first Newspaper in India) का अधिकारी नाम ‘Hicky’s Bengal Gazette or the Original Calcutta General Advertiser‘ था जोकि दो वर्षों तक सफलता पूर्वक चला परन्तु विवादों की वजह से इस न्यूज़ पेपर पर रोक लगा दी गई। और यह न्यूज़ पेपर हमेशा के लिए इतिहास बनकर रह गया।

डेली करंट अफेयर्स के लिए हमें यूट्यूब पर सब्सक्राइब कीजिए।
काल्पनिक चित्र

भारत में प्रथम न्यूज़ पेपर बंगाल गजट किस भाषा में छपता था?

यह न्यूज़ पेपर भारत में ही नहीं बल्कि एशिया का प्रथम न्यूज़ पेपर या समाचार पत्र था जिसकी भाषा अंग्रेजी (English) थी।

भारत के प्रथम अख़बार की शुरआत कब हुई?

इंडिया में प्रथम न्यूज़पेपर ‘Hicky’s Bengal Gazette or the Original Calcutta General Advertiser’ के नाम से छापना शुरू हुआ एवं इसकी शुरआत करने का श्रेय जेम्स ऑगस्टस हिक्की (James Augustus Hicky) को जाता है जिन्होंने यह अख़बार वर्ष 1780 में शुरू किया। परन्तु वर्ष 1782 में ईस्ट इंडिया कंपनी ने इस न्यूज़ पेपर के छपने पर रोक लगा दी और यह न्यूज़ पेपर हमेशा के लिए बंद हो गया।

भारत के प्रथम न्यूज़पेपर को क्यों बंद कर दिया गया?

जेम्स का यह अखबार गवर्नर-जनरल वारेन हेस्टिंग्स के प्रशासन का एक मजबूत आलोचक था। एवं लोग गवर्नर-जनरल वारेन हेस्टिंग्स (Warren Hastings) के बारे में पढ़ने को लेकर ज्यादा रूचि दिखाने लगे थे जिस वजह से इस न्यूज़ पेपर रोक लगा दी गई। इसके साथ ही यह अख़बार अपनी उत्तेजक पत्रकारिता और भारत में मुक्त अभिव्यक्ति के लिए अपनी लड़ाई के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाने लगा था।

यह भी पढ़ें।

  1. भारत में पहला छापाखाना कब एवं कहाँ खोला गया?

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *