fbpx

DRDO ने बनाया “भारत” नाम का स्वदेशी ड्रोन

भारत चीन के बीच बॉर्डर पर चल रहे तनाव, एवं बॉर्डर पर हवाई मार्ग से निगरानी रखने के लिए DRDO ने स्वदेशी ड्रोन बनाया है जिसका नाम “भारत” (Bharat) रखा गया है।

यह ड्रोन मुख्य रूप से ईस्टर लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा के साथ ऊंचाई वाले क्षेत्रों और पहाड़ी इलाकों में निगरानी करने बनाया गया है।
यह ड्रोन रात में भी साफ क्षमताओं के साथ वास्तविक समय वीडियो प्रसारण प्रदान करता है।

डेली करंट अफेयर्स के लिए हमें फेसबुक पर सब्सक्राइब कीजिए।
DRDO created indigenous drone named Bharat
Image credit – aninews.in

याद रखने योग्य महत्वपूर्ण नोट्स, अन्य लेटेस्ट करंट अफेयर्स, या किस तरह के प्रश्न बन सकते है?

DRDO full form

Defence Research and Development Organisation, DRDO का फुल फॉर्म है।

DRDO के बारे में

रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) का गठन वर्ष 1958 में हुआ था। इसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है। यह आर्गेनाइजेशन रक्षा मंत्रालय के अंतर्गत आता है जिसके मंत्री श्री राजनाथ सिंह है। DRDO के चैयरमेन डॉ. जी सतीश रेड्डी है।

नवंबर के महत्वपूर्ण अंतर्राष्ट्रीय दिन (Important International Days of November)

यह भी पढ़ें।

  1. जी सतीश रेड्डी को 2 साल के लिए डीआरडीओ के अध्यक्ष पद का मिला एक्सटेंशन।
  2. DRDO ने पटना में 500 बिस्तर का अस्पताल शुरू किया
  3. DRDO ने DIHAR, Leh में COVID-19 परीक्षण सुविधा की स्थापना की
  4. भारत ने ATGM “ध्रुवस्त्र (Dhruvastra)” का सफल परीक्षण किया।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *