fbpx

National Handloom Day | राष्ट्रीय हथकरघा दिवस

हथकरघा क्षेत्र देश की शानदार सांस्कृतिक विरासत का प्रतीक है और देश में आजीविका का एक महत्वपूर्ण स्रोत है। यह क्षेत्र महिला सशक्तीकरण के लिए महत्वपूर्ण है क्योंकि 70% हथकरघा बुनकर और संबद्ध श्रमिक महिलाएं हैं।

डेली करंट अफेयर्स के लिए हमें फेसबुक पर सब्सक्राइब कीजिए।

कैसे हुई शुरुआत?

7 अगस्त को स्वदेशी आंदोलन की शुरुआत करने के लिए राष्ट्रीय हथकरघा दिवस (National Handloom Day) के रूप में चुना गया था जो कि 1905 में उसी तारीख को शुरू किया गया था। इसका उद्देश्य बड़े पैमाने पर लोगों के बीच हथकरघा उद्योग के बारे में जागरूकता पैदा करना और सामाजिक-आर्थिक विकास में इसका योगदान है।

सबसे पहले राष्ट्रीय हथकरघा दिवस कब मनाया गया?

सबसे पहले राष्ट्रीय हथकरघा दिवस (National Handloom Day) का उद्घाटन 7 अगस्त 2015 को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा चेन्नई के मद्रास विश्वविद्यालय के शताब्दी हॉल में किया गया था।

National Handloom Day

वर्ष 2020 में।

इस अवसर को चिह्नित करने और नागरिकों के बीच हथकरघा बुनाई की कारीगरी को बढ़ावा देने के लिए, हथकरघा बुनाई समुदाय के लिए सोशल मीडिया अभियान की योजना बनाई गई है। माननीय प्रधान मंत्री ने आग्रह किया है कि भारतीय हथकरघा और हस्तशिल्प का उपयोग करना हम सभी के लिए एक प्रयास होना चाहिए और उनके बारे में अन्य लोगों से भी संवाद करना चाहिए। इन उत्पादों की समृद्धि और विविधता के बारे में दुनिया जितना जानती है, उतना ही हमारे कारीगरों और बुनकरों को फायदा होगा।

राष्ट्रीय हथकरघा दिवस (National Handloom Day) पर क्या देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने?

राष्ट्रीय हथकरघा दिवस पर, हम अपने जीवंत हथकरघा और हस्तशिल्प क्षेत्र से जुड़े सभी लोगों को सलाम करते हैं। उन्होंने हमारे राष्ट्र के स्वदेशी शिल्प को संरक्षित करने के लिए सराहनीय प्रयास किए हैं। आइए हम सब # Vocal4Handmade हो और एक आत्मानिर्भर भारत के प्रयासों को मजबूत करें।

यह भी पढ़ें।

  1. इंजीनियर दिवस (Engineer’s Day)
  2. हिन्दी दिवस (Hindi Day)
  3. टीचर्स डे | Teachers Day | शिक्षक दिवस | 05 September 2020
  4. Telugu Language Day | तेलुगु भाषा दिवस | తెలుగు భాషా దినోత్సవం
  5. राष्ट्रीय खेल दिवस (National Sports Day) | 29th August

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *