सबसे कम उम्र के मरिएके लुकास रिजनेवेल्ड ने अंतर्राष्ट्रीय बुकर पुरस्कार (International Booker Prize 2020) जीता।

नीदरलैंड के मरिएके लुकास रिजनेवेल्ड (Marieke Lucas Rijneveld) अंतर्राष्ट्रीय बुकर पुरस्कार (International Booker Prize 2020) जितने वाले सबसे काम उम्र के लेखक बन गए है।

अंतर्राष्ट्रीय बुकर पुरस्कार (International Booker Prize 2020) क्या है?

यह पुरुस्कार वर्ष 2005 में शुरू हुआ था एवं इसकी प्राइज मनी 50,000 पोंड है। इसकी शुरुआत यूनाइटेड किंगडम से हुई है।

इस प्राइज को वर्ष 2020 में नीदरलैंड के मरिएके लुकास रिजनेवेल्ड (Marieke Lucas Rijneveld) ने जीता है जिनकी उम्र मात्र 29 वर्ष है।

“The Discomfort of Evening: A Novel” नाम का नावेल मरिएके लुकास रिजनेवेल्ड (Marieke Lucas Rijneveld) ने लिखा था।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *